कोरोना के बढ़ते हालात के बाद 5G के नेटवर्क टेस्टिंग को इसका जिम्मेदार ठहराया है जिसको देखते हुए दूरसंचार विभाग ने एक घोषणा करते हुए कहा कि गलत जानकारी देने वाले झूठे ऑडियो संदेशों की रिपोर्ट सामने आने के बाद कोविड 19 के प्रसार से जुड़े हुए हैं। विभाग ने जनता से आधारहीन और झूठे संदेशों में नही आने का आग्रह किया है। यह भी कहा कि की कई जगहों पर यह अफवाह फैलाया जा रहा है कि 5G के नेटवर्क परीक्षण के शुरू होने के बाद पूरे देश मे यह कोरोना की भयावह स्थिति उत्पन्न हुई है।
विभाग ने यह कहा कि “ये संदेश झूठे हैं और बिल्कुल भी सत्य नही है” साथ ही आम जनता की सूचित किया जाता है कि 5G के नेटवर्क टेस्टिंग और कोविड का आपस मे कोई संबंध नहीं है साथ ही यह भी कहा गया कि जनता से आग्रह है कि ना ऐसे अफवाहों पर विश्वासों करें और ऐसे अफवाहों को फैलाने से बचाये।

दूरसंचार विभाग ने किया ऐलान: 5G और कोरोना का कोई संबंध नही

                                   

कोरोना के बढ़ते हालात के बाद 5G के नेटवर्क टेस्टिंग को इसका जिम्मेदार ठहराया है जिसको देखते हुए दूरसंचार विभाग ने एक घोषणा करते हुए कहा कि गलत जानकारी देने वाले झूठे ऑडियो संदेशों की रिपोर्ट सामने आने के बाद कोविड 19 के प्रसार से जुड़े हुए हैं। विभाग ने जनता से आधारहीन और झूठे संदेशों में नही आने का आग्रह किया है। यह भी कहा कि की कई जगहों पर यह अफवाह फैलाया जा रहा है कि 5G के नेटवर्क परीक्षण के शुरू होने के बाद पूरे देश मे यह कोरोना की भयावह स्थिति उत्पन्न हुई है।
विभाग ने यह कहा कि “ये संदेश झूठे हैं और बिल्कुल भी सत्य नही है” साथ ही आम जनता की सूचित किया जाता है कि 5G के नेटवर्क टेस्टिंग और कोविड का आपस मे कोई संबंध नहीं है साथ ही यह भी कहा गया कि जनता से आग्रह है कि ना ऐसे अफवाहों पर विश्वासों करें और ऐसे अफवाहों को फैलाने से बचाये।

Comments are closed.

Share This On Social Media!