बहराइच (यूपी) के ज़िला अस्पताल का वीडियो सामने आया है, जिसमें एक युवती कोविड-19 संक्रमित मां को सीपीआर (कृत्रिम श्वसन प्रक्रिया) देती नज़र आ रही है। बतौर रिपोर्ट्स, महिला को सांस लेने में दिक्कत के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बकौल सीएमएस डी.के. सिंह, “अस्पताल आने पर महिला की तत्काल मौत हो गई…(अस्पताल में) ऑक्सीजन की व्यवस्था थी।”

चूंकि देश भर के भारतीय प्रियजनों की जान बचाने के लिए दवाओं, ऑक्सीजन की खरीद के लिए खंभे से लेकर पोस्ट तक दौड़ते हैं, इसलिए कई शोकाकुल और दुखद कहानियां सामने आई हैं । ऐसी ही एक दिल दहला देने वाली घटना में यूपी के बहराइच में एक महिला ने अपनी मरती मां को मुंह में सांस लेकर पुनर्जीवित करने की कोशिश की लेकिन उसकी जान नहीं बचा सकी । इस तकलीफदेह घटना का जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें बहराइच जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में महिला अपनी मां को बचाने के लिए खुद की जान जोखिम में डालकर नजर आ रही है। ऑक्सीजन की अनुपलब्धता के कारण सांस के लिए अपनी मां को हांफते हुए देखने के बाद महिला उसे मुंह से मुंह पुनर्जीवन देने की कोशिश करती है, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ

कोविड-19 संक्रमित मां को सीपीआर देती बेटी का वीडियो आया सामने, महिला की हुई मौत

                                   

बहराइच (यूपी) के ज़िला अस्पताल का वीडियो सामने आया है, जिसमें एक युवती कोविड-19 संक्रमित मां को सीपीआर (कृत्रिम श्वसन प्रक्रिया) देती नज़र आ रही है। बतौर रिपोर्ट्स, महिला को सांस लेने में दिक्कत के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बकौल सीएमएस डी.के. सिंह, “अस्पताल आने पर महिला की तत्काल मौत हो गई…(अस्पताल में) ऑक्सीजन की व्यवस्था थी।”

चूंकि देश भर के भारतीय प्रियजनों की जान बचाने के लिए दवाओं, ऑक्सीजन की खरीद के लिए खंभे से लेकर पोस्ट तक दौड़ते हैं, इसलिए कई शोकाकुल और दुखद कहानियां सामने आई हैं । ऐसी ही एक दिल दहला देने वाली घटना में यूपी के बहराइच में एक महिला ने अपनी मरती मां को मुंह में सांस लेकर पुनर्जीवित करने की कोशिश की लेकिन उसकी जान नहीं बचा सकी । इस तकलीफदेह घटना का जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें बहराइच जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में महिला अपनी मां को बचाने के लिए खुद की जान जोखिम में डालकर नजर आ रही है। ऑक्सीजन की अनुपलब्धता के कारण सांस के लिए अपनी मां को हांफते हुए देखने के बाद महिला उसे मुंह से मुंह पुनर्जीवन देने की कोशिश करती है, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ

Comments are closed.

Share This On Social Media!