पूरा देश कोरोना के दूसरी लहर से डरा हुआ है इसी बीच खबर है कि कोरोना वायरस क्व तीसरी लहर इससे भी खतरनाक साबित होने वाली है। जिसमे बच्चों के सेहत को लेकर चिंताजनक स्थिति बनी हुई है।
साइंटिस्ट के एक रिसर्च स्टडी में यह पता चला है कि कोरोना की तीसरी लहर भारत में सितंबर महीने में प्रवेश करेगी। यह खतरनाक लहार बच्चों को अपना टारगेट बना सकती है और यह लहर बहुत खतरनाक साबित होने वाला है।
इस खतरनाक वायरस के लहर से बचने के लिए उपाय है की बच्चों को वैक्सीन लेना लेकिन जबतक वैक्सीन नही आती है तबतक अपने बच्चों को योग के जरिए मजबूत बना सकते हैं और नियमित तौर पर करने से फायदा हो सकता है।
बाबा रामदेव के अनुसार बच्चों से ये कुछ निम्न योग हैं जो आसानी से बच्चों से करवाया जा सकता है।
सूर्य नमस्कार, यौगिक जॉगिंग, दंड बैठक इत्यादि के साथ बच्चे की इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए
भुजंगासन, सर्वांगासन, योगमुद्रासन, शशकासन, गोमुखासन, उत्तानपादासन, पवनमुक्तासन, नौकासन, मंडूकासन करवा सकते हैं।

कोरोना के तीसरे लहर में बच्चों का स्वास्थ्य खतरे में, क्या होगा बचाव

                                   

पूरा देश कोरोना के दूसरी लहर से डरा हुआ है इसी बीच खबर है कि कोरोना वायरस क्व तीसरी लहर इससे भी खतरनाक साबित होने वाली है। जिसमे बच्चों के सेहत को लेकर चिंताजनक स्थिति बनी हुई है।
साइंटिस्ट के एक रिसर्च स्टडी में यह पता चला है कि कोरोना की तीसरी लहर भारत में सितंबर महीने में प्रवेश करेगी। यह खतरनाक लहार बच्चों को अपना टारगेट बना सकती है और यह लहर बहुत खतरनाक साबित होने वाला है।
इस खतरनाक वायरस के लहर से बचने के लिए उपाय है की बच्चों को वैक्सीन लेना लेकिन जबतक वैक्सीन नही आती है तबतक अपने बच्चों को योग के जरिए मजबूत बना सकते हैं और नियमित तौर पर करने से फायदा हो सकता है।
बाबा रामदेव के अनुसार बच्चों से ये कुछ निम्न योग हैं जो आसानी से बच्चों से करवाया जा सकता है।
सूर्य नमस्कार, यौगिक जॉगिंग, दंड बैठक इत्यादि के साथ बच्चे की इम्युनिटी क्षमता बढ़ाने के लिए
भुजंगासन, सर्वांगासन, योगमुद्रासन, शशकासन, गोमुखासन, उत्तानपादासन, पवनमुक्तासन, नौकासन, मंडूकासन करवा सकते हैं।

Comments are closed.

Share This On Social Media!