विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक टेड्रोस एधेनॉम गेब्रियेसस ने भारत में बढ़ रहे कोविड-19 के मामलों को लेकर शुक्रवार को चिंता व्यक्त की। टेड्रोस ने कहा, “भारत में (मौजूदा) स्थिति याद दिलाती है कि वायरस क्या कर सकता है।” शनिवार को भारत में सर्वाधिक 3,46,786 नए मामले और सर्वाधिक 2,624 नई मौतें दर्ज हुई थीं

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस अलोम घेब्रेयसस ने शुक्रवार (23 अप्रैल, २०२१) को भारत में बिगड़ती COVID-19 स्थिति पर टिप्पणी की और कहा कि यह एक ‘ विनाशकारी अनुस्मारक ‘ है कि वायरस क्या कर सकता है ।टेड्रोस ने यह भी कहा कि डब्ल्यूएचओ अभी भारत में कोरोनावायरस मामलों और मौतों की बढ़ती संख्या के बारे में ‘ गहरा चिंतित ‘ है ।उन्होंने COVID-19 पर एक मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा, “हम जानते हैं कि स्थिति जटिल है, और देश के विभिन्न हिस्सों में विभिन्न प्रतिक्रियाओं की आवश्यकता है, और मैं सामाजिक मिश्रण को कम करने और वैक्सीन उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का स्वागत करता हूं ।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ने आगे कहा, मैं भारत में उन सभी के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं जिन्होंने किसी को वे प्यार करते हुए खो दिया है । और मैं अपनी गहरी प्रतिबद्धता व्यक्त करता हूं कि डब्ल्यूएचओ और अधिनियम त्वरक में हमारे साझेदार भारत सरकार और लोगों के साथ खड़े हैं और हम जितना हो सके उतने जीवन को बचाने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे ।टेड्रोस अलोम घेब्रेयसस ने कहा, भारत में स्थिति इस बात की विनाशकारी याद दिलाती है कि यह वायरस क्या कर सकता है और हमें इसके खिलाफ हर उपकरण को व्यापक और एकीकृत दृष्टिकोण में मार्शल क्यों करना चाहिए: सार्वजनिक स्वास्थ्य उपाय, टीके, निदान और चिकित्सीय ।

यह टिप्पणी एक दिन बाद आई है जब भारत ने कोरोनावायरस मामलों की दुनिया की सबसे ज्यादा सिंगल-डे स्पाइक दर्ज की । दुनिया में दूसरे सबसे ज्यादा कोरोनावायरस से प्रभावित देश ने शुक्रवार को ३,३२,७३० नए संक्रमणों की सूचना दी । 3,14,835 के मामलों में भारत की दैनिक छलांग संयुक्त राज्य अमेरिका में जनवरी में 2,97,430 मामलों की दुनिया में पिछले सबसे अधिक एक दिन की वृद्धि को पार कर गई है।

भारत की स्थिति याद दिलाती है कि कोविड-19 क्या कर सकता है: डब्ल्यूएचओ प्रमुख

                                   

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक टेड्रोस एधेनॉम गेब्रियेसस ने भारत में बढ़ रहे कोविड-19 के मामलों को लेकर शुक्रवार को चिंता व्यक्त की। टेड्रोस ने कहा, “भारत में (मौजूदा) स्थिति याद दिलाती है कि वायरस क्या कर सकता है।” शनिवार को भारत में सर्वाधिक 3,46,786 नए मामले और सर्वाधिक 2,624 नई मौतें दर्ज हुई थीं

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस अलोम घेब्रेयसस ने शुक्रवार (23 अप्रैल, २०२१) को भारत में बिगड़ती COVID-19 स्थिति पर टिप्पणी की और कहा कि यह एक ‘ विनाशकारी अनुस्मारक ‘ है कि वायरस क्या कर सकता है ।टेड्रोस ने यह भी कहा कि डब्ल्यूएचओ अभी भारत में कोरोनावायरस मामलों और मौतों की बढ़ती संख्या के बारे में ‘ गहरा चिंतित ‘ है ।उन्होंने COVID-19 पर एक मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा, “हम जानते हैं कि स्थिति जटिल है, और देश के विभिन्न हिस्सों में विभिन्न प्रतिक्रियाओं की आवश्यकता है, और मैं सामाजिक मिश्रण को कम करने और वैक्सीन उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का स्वागत करता हूं ।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ने आगे कहा, मैं भारत में उन सभी के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं जिन्होंने किसी को वे प्यार करते हुए खो दिया है । और मैं अपनी गहरी प्रतिबद्धता व्यक्त करता हूं कि डब्ल्यूएचओ और अधिनियम त्वरक में हमारे साझेदार भारत सरकार और लोगों के साथ खड़े हैं और हम जितना हो सके उतने जीवन को बचाने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे ।टेड्रोस अलोम घेब्रेयसस ने कहा, भारत में स्थिति इस बात की विनाशकारी याद दिलाती है कि यह वायरस क्या कर सकता है और हमें इसके खिलाफ हर उपकरण को व्यापक और एकीकृत दृष्टिकोण में मार्शल क्यों करना चाहिए: सार्वजनिक स्वास्थ्य उपाय, टीके, निदान और चिकित्सीय ।

यह टिप्पणी एक दिन बाद आई है जब भारत ने कोरोनावायरस मामलों की दुनिया की सबसे ज्यादा सिंगल-डे स्पाइक दर्ज की । दुनिया में दूसरे सबसे ज्यादा कोरोनावायरस से प्रभावित देश ने शुक्रवार को ३,३२,७३० नए संक्रमणों की सूचना दी । 3,14,835 के मामलों में भारत की दैनिक छलांग संयुक्त राज्य अमेरिका में जनवरी में 2,97,430 मामलों की दुनिया में पिछले सबसे अधिक एक दिन की वृद्धि को पार कर गई है।

Comments are closed.

Share This On Social Media!