Last updated on May 12th, 2021 at 10:47 am

जोशीमठ (उत्तराखंड) की नीति घाटी में ग्लेशियर फटने के बाद सेना ने बताया है कि बीआरओ कैंप के हिमस्खलन की चपेट में आने के बाद अब तक 2 शव बरामद किए गए और 291 लोग बचा लिए गए हैं। बकौल सेना, कई जगह भूस्खलन होने से 4-5 जगहों पर सड़क से संपर्क कट गया है जिस पर काम जारी है।उत्तराखंड के जोशीमठ में ग्लेशियर टूटने से दो लोगों की मौत की खबर आ रही है. जानकारी के मुताबिक, भारत-चीन सीमा पर उत्तराखंड स्थित नीती घाटी के सुमना में शुक्रवार को ग्लेशियर टूटने की घटना हुई. जिसके बाद मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अलर्ट जारी कर दिया. जिला प्रशासन और बीआरओ के सम्पर्क में रहकर मुख्यमंत्री हादसे की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. भारतीय सेना ने यहां लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है. अबतक 291 लोगों को बचाया गया है.

इससे पहले मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा, जिला प्रशासन को मामले की पूरी जानकारी प्राप्त करने के निर्देश दे दिए हैं. एनटीपीसी एवं अन्य परियोजनाओं में रात के समय काम रोकने के आदेश दे दिए हैं ताकि कोई अप्रिय घटना ना होने पाए. मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बताया कि गृहमंत्री अमित शाह ने नीति घाटी के सुमना में ग्लेशियर टूटने की सूचना का तत्काल संज्ञान लिया है. उन्होंने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए उत्तराखंड को पूरी मदद देने का आश्वासन दिया है और आईटीबीपी को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं. उनकी इस तत्परता व संवेदनशीलता के लिए प्रदेशवासियों की ओर से आभार व्यक्त करता हूं.

उत्तराखंड की नीति घाटी में ग्लेशियर फटने के बाद 2 शव बरामद, 291 लोग बचाए गए

                                   

Last updated on May 12th, 2021 at 10:47 am

जोशीमठ (उत्तराखंड) की नीति घाटी में ग्लेशियर फटने के बाद सेना ने बताया है कि बीआरओ कैंप के हिमस्खलन की चपेट में आने के बाद अब तक 2 शव बरामद किए गए और 291 लोग बचा लिए गए हैं। बकौल सेना, कई जगह भूस्खलन होने से 4-5 जगहों पर सड़क से संपर्क कट गया है जिस पर काम जारी है।उत्तराखंड के जोशीमठ में ग्लेशियर टूटने से दो लोगों की मौत की खबर आ रही है. जानकारी के मुताबिक, भारत-चीन सीमा पर उत्तराखंड स्थित नीती घाटी के सुमना में शुक्रवार को ग्लेशियर टूटने की घटना हुई. जिसके बाद मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अलर्ट जारी कर दिया. जिला प्रशासन और बीआरओ के सम्पर्क में रहकर मुख्यमंत्री हादसे की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. भारतीय सेना ने यहां लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है. अबतक 291 लोगों को बचाया गया है.

इससे पहले मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा, जिला प्रशासन को मामले की पूरी जानकारी प्राप्त करने के निर्देश दे दिए हैं. एनटीपीसी एवं अन्य परियोजनाओं में रात के समय काम रोकने के आदेश दे दिए हैं ताकि कोई अप्रिय घटना ना होने पाए. मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बताया कि गृहमंत्री अमित शाह ने नीति घाटी के सुमना में ग्लेशियर टूटने की सूचना का तत्काल संज्ञान लिया है. उन्होंने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए उत्तराखंड को पूरी मदद देने का आश्वासन दिया है और आईटीबीपी को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं. उनकी इस तत्परता व संवेदनशीलता के लिए प्रदेशवासियों की ओर से आभार व्यक्त करता हूं.

Comments are closed.

Share This On Social Media!