कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कोविड-19 वैक्सीन की ‘ऊंची’ कीमतों को लेकर कहा है कि असफल व्यवस्था ने भारतीय नागरिकों को निराश किया है। उन्होंने कहा, “लोगों का पैसा वैक्सीन निर्माण के लिए कंपनियों को दिया गया। अब, भारत सरकार उसी वैक्सीन के लिए लोगों को दुनिया में सबसे अधिक दाम चुकाने के लिए कह रही है।”कोविड संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के मोदी सरकार के खिलाफ तेवरों में आक्रामकता देखी जा रही है. बुधवार को राहुल गांधी ने एक बार फिर सरकार के खिलाफ ट्विटर के जरिए मोर्चा खोलते हुए इसे अंधा सिस्टम करार दिया, उन्होंने लिखा कि एक दूसरे की सहायता करते आम जन दिखाते हैं कि किसी का दिल छूने के लिए हाथ छूने की ज़रूरत नहीं है, मदद का हाथ बढ़ाते चलो, इस अंधे ‘सिस्टम’ का सच दिखाते चलो.

इससे पहले भी राहुल गांधी कोविड के हालातों को लेकर मोदी सरकार का घेराव करते रहे हैं. हाल ही उन्होंने देश में सभी को मुफ्त वैक्सीन देने की वकालत की थी और इन हालातों में सेंट्रल विस्ता परियोजना के के काम जारी रहने पर भी सवाल उठाए थे.

कोरोनावायररस का कहर भारत में लगातार बढ़ रहा है, और बुधवार को लगातार सातवां दिन रहा, जब COVID-19 संक्रमण के तीन लाख से ज़्यादा नए केस सामने आए. वैसे, यह लगातार 11वां दिन है, जब देशभर में ढाई लाख से ज़्यादा कोरोना वायररस संक्रमण के नए मामले दर्ज हुए. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा बुधवार सुबह जारी किए गए ताज़ातरीन आंकड़ों के मुताबिक, भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान 3,60,960 नए COVID-19 केस दर्ज किए गए, जो अब तक एक दिन में दर्ज हुए केसों का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

असफल व्यवस्था ने लोगों को निराश किया: कोविड-19 वैक्सीन की कीमतों को लेकर राहुल

                                   

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कोविड-19 वैक्सीन की ‘ऊंची’ कीमतों को लेकर कहा है कि असफल व्यवस्था ने भारतीय नागरिकों को निराश किया है। उन्होंने कहा, “लोगों का पैसा वैक्सीन निर्माण के लिए कंपनियों को दिया गया। अब, भारत सरकार उसी वैक्सीन के लिए लोगों को दुनिया में सबसे अधिक दाम चुकाने के लिए कह रही है।”कोविड संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के मोदी सरकार के खिलाफ तेवरों में आक्रामकता देखी जा रही है. बुधवार को राहुल गांधी ने एक बार फिर सरकार के खिलाफ ट्विटर के जरिए मोर्चा खोलते हुए इसे अंधा सिस्टम करार दिया, उन्होंने लिखा कि एक दूसरे की सहायता करते आम जन दिखाते हैं कि किसी का दिल छूने के लिए हाथ छूने की ज़रूरत नहीं है, मदद का हाथ बढ़ाते चलो, इस अंधे ‘सिस्टम’ का सच दिखाते चलो.

इससे पहले भी राहुल गांधी कोविड के हालातों को लेकर मोदी सरकार का घेराव करते रहे हैं. हाल ही उन्होंने देश में सभी को मुफ्त वैक्सीन देने की वकालत की थी और इन हालातों में सेंट्रल विस्ता परियोजना के के काम जारी रहने पर भी सवाल उठाए थे.

कोरोनावायररस का कहर भारत में लगातार बढ़ रहा है, और बुधवार को लगातार सातवां दिन रहा, जब COVID-19 संक्रमण के तीन लाख से ज़्यादा नए केस सामने आए. वैसे, यह लगातार 11वां दिन है, जब देशभर में ढाई लाख से ज़्यादा कोरोना वायररस संक्रमण के नए मामले दर्ज हुए. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा बुधवार सुबह जारी किए गए ताज़ातरीन आंकड़ों के मुताबिक, भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान 3,60,960 नए COVID-19 केस दर्ज किए गए, जो अब तक एक दिन में दर्ज हुए केसों का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

Comments are closed.

Share This On Social Media!