महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में कड़े लॉकडाउन की ज़रूरत नहीं क्योंकि लोग प्रतिबंधों का पालन कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “हम प्रतिबंधों और लॉकडाउन के कारण कोविड-19 के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम रहे हैं…हमारा अनुमान था कि इस समय 10 लाख सक्रिय कोविड-19 मरीज़ होंगे…लेकिन फिलहाल ऐसे 7 लाख मामले हैं।”महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को राज्य में अपने संबोधन के दौरान कहा कि राज्य में अधिक सख्त लॉकडाउन की जरूरत नहीं है और लोगों को जोड़ने से प्रतिबंधों का पालन किया जा रहा है ।

आज राज्य को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा, राज्य में ज्यादा सख्त लॉकडाउन की जरूरत नहीं है, लोग प्रतिबंधों का पालन कर रहे हैं । हम प्रतिबंधों और लॉकडाउन के कारण COVID-19 के प्रसार को रोकने में सक्षम रहे हैं । हमारा अनुमान था कि 10 लाख पॉजिटिव एक्टिव मरीज हो सकते हैं, लेकिन अब यह 7 लाख केस हैं।

महाराष्ट्र सरकार ने गुरुवार को राज्य में COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए लागू मौजूदा लॉकडाउन जैसे प्रतिबंधों को 15 मई तक बढ़ा दिया ।

मुख्य सचिव सीताराम कुंटे की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि प्रतिबंधों को बढ़ाने का फैसला इस बात से लिया गया है क्योंकि राज्य को सीओवीआईवी-19 के प्रसार से खतरा बना हुआ है । उन्होंने कहा, वायरस को फैलने से रोकने और रोकने के लिए आपातकालीन उपायों को जारी रखना जरूरी था ।

इस महीने की शुरुआत में लगाए गए लोगों की आवाजाही और कई अन्य गतिविधियों पर व्यापक अंकुश 1 मई को सुबह 7 बजे तक जारी रहना था । 14 अप्रैल और फिर पिछले सप्ताह प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया गया था, जिससे उनके दायरे में अधिक गतिविधियां बढ़ गई थीं ।

कड़े लॉकडाउन की ज़रूरत नहीं, लोग कर रहे हैं प्रतिबंधों का पालन: महाराष्ट्र के सीएम

                                   

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में कड़े लॉकडाउन की ज़रूरत नहीं क्योंकि लोग प्रतिबंधों का पालन कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “हम प्रतिबंधों और लॉकडाउन के कारण कोविड-19 के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम रहे हैं…हमारा अनुमान था कि इस समय 10 लाख सक्रिय कोविड-19 मरीज़ होंगे…लेकिन फिलहाल ऐसे 7 लाख मामले हैं।”महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को राज्य में अपने संबोधन के दौरान कहा कि राज्य में अधिक सख्त लॉकडाउन की जरूरत नहीं है और लोगों को जोड़ने से प्रतिबंधों का पालन किया जा रहा है ।

आज राज्य को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा, राज्य में ज्यादा सख्त लॉकडाउन की जरूरत नहीं है, लोग प्रतिबंधों का पालन कर रहे हैं । हम प्रतिबंधों और लॉकडाउन के कारण COVID-19 के प्रसार को रोकने में सक्षम रहे हैं । हमारा अनुमान था कि 10 लाख पॉजिटिव एक्टिव मरीज हो सकते हैं, लेकिन अब यह 7 लाख केस हैं।

महाराष्ट्र सरकार ने गुरुवार को राज्य में COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए लागू मौजूदा लॉकडाउन जैसे प्रतिबंधों को 15 मई तक बढ़ा दिया ।

मुख्य सचिव सीताराम कुंटे की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि प्रतिबंधों को बढ़ाने का फैसला इस बात से लिया गया है क्योंकि राज्य को सीओवीआईवी-19 के प्रसार से खतरा बना हुआ है । उन्होंने कहा, वायरस को फैलने से रोकने और रोकने के लिए आपातकालीन उपायों को जारी रखना जरूरी था ।

इस महीने की शुरुआत में लगाए गए लोगों की आवाजाही और कई अन्य गतिविधियों पर व्यापक अंकुश 1 मई को सुबह 7 बजे तक जारी रहना था । 14 अप्रैल और फिर पिछले सप्ताह प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया गया था, जिससे उनके दायरे में अधिक गतिविधियां बढ़ गई थीं ।

Comments are closed.

Share This On Social Media!