डीएमके प्रमुख एम.के. स्टालिन ने शुक्रवार को तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। उन्हें राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने शपथ दिलाई और उनके साथ दुरई मुरुगन समेत 33 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। गौरतलब है, डीएमके के नेतृत्व वाले गठबंधन ने विधानसभा चुनाव में राज्य की 234 में से 159 सीटों पर जीत हासिल की थी।
तमिलनाडु में द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन शुक्रवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। उनके अलावा मंत्रिमंडल में 33 सदस्य शामिल होंगे। इनमें अनुभवी और वरिष्ठ नेता दुरईमुरुगम के अलावा करीब 12 नए सदस्य पहली बार मंत्री बनेंगे। राजभवन की ओर से बताया गया है कि स्टालिन द्वारा सौंपी गई मंत्रियों और उनके विभागों की सूची को राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने मंजूरी दे दी है।
पहली बार मुख्यमंत्री बनने जा रहे स्टालिन गृह और अन्य विभाग भी संभालेंगे। वहीं, द्रमुक सरकार के पिछले कार्यकाल में लोक निर्माण विभाग संभाल चुके पार्टी महासचिव दुरईमुरुगन जल संसाधन मंत्री पद की शपथ लेंगे
इसके अलावा उन्हें खनन, खनिज और सिंचाई परियोजनाओं की जिम्मेदारी भी सौंपी जाएगी। चेन्नई के पूर्व मेयर मा सुब्रमणियन और उत्तरी चेन्नई के कद्दावर नेता पीके सेकारबाबू कैबिनेट में पहली बार शामिल हो रहे हैं।

सुब्रमणियन को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण जबकि सेकारबाबू को हिंदू धर्म और कल्याणकारी योजनाओं का मंत्रालय सौंपा गया है। पूर्व बैंकर पलानिवेल त्यागराजन को वित्त और अंबिल महेश पोयामोजी को स्कूली शिक्षा मंत्रालय सौंपा गया है।

डीएमके प्रमुख एम.के. स्टालिन ने ली तमिलनाडु के सीएम पद की शपथ

                                   
डीएमके प्रमुख एम.के. स्टालिन ने शुक्रवार को तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। उन्हें राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने शपथ दिलाई और उनके साथ दुरई मुरुगन समेत 33 नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। गौरतलब है, डीएमके के नेतृत्व वाले गठबंधन ने विधानसभा चुनाव में राज्य की 234 में से 159 सीटों पर जीत हासिल की थी।
तमिलनाडु में द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन शुक्रवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। उनके अलावा मंत्रिमंडल में 33 सदस्य शामिल होंगे। इनमें अनुभवी और वरिष्ठ नेता दुरईमुरुगम के अलावा करीब 12 नए सदस्य पहली बार मंत्री बनेंगे। राजभवन की ओर से बताया गया है कि स्टालिन द्वारा सौंपी गई मंत्रियों और उनके विभागों की सूची को राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने मंजूरी दे दी है।
पहली बार मुख्यमंत्री बनने जा रहे स्टालिन गृह और अन्य विभाग भी संभालेंगे। वहीं, द्रमुक सरकार के पिछले कार्यकाल में लोक निर्माण विभाग संभाल चुके पार्टी महासचिव दुरईमुरुगन जल संसाधन मंत्री पद की शपथ लेंगे
इसके अलावा उन्हें खनन, खनिज और सिंचाई परियोजनाओं की जिम्मेदारी भी सौंपी जाएगी। चेन्नई के पूर्व मेयर मा सुब्रमणियन और उत्तरी चेन्नई के कद्दावर नेता पीके सेकारबाबू कैबिनेट में पहली बार शामिल हो रहे हैं।

सुब्रमणियन को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण जबकि सेकारबाबू को हिंदू धर्म और कल्याणकारी योजनाओं का मंत्रालय सौंपा गया है। पूर्व बैंकर पलानिवेल त्यागराजन को वित्त और अंबिल महेश पोयामोजी को स्कूली शिक्षा मंत्रालय सौंपा गया है।

Comments are closed.

Share This On Social Media!