कोरोना काल के बीच उत्तर प्रदेश त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का आगाज हो गया है। पहले चरण के लिए गुरुवार को गोरखपुर सहित प्रदेश के 18 जिलों में मतदान शुरू हो रहा है। सुबह सात बजे से शुरू हुआ मतदान शाम छह बजे तक जारी रहेगा। जिले में 9 बजे तक 9.80 फीसदी मतदान हुआ।

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जिले के 4657 बूथों पर 29 लाख 78 हजार 569 मतदाता प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी) और जिला पंचायत सदस्य पदों के प्रत्याशियों का भविष्य तय कर रहे हैं। जिले में प्रधान पद के 8822, सदस्य के 6893, बीडीसी के 8176 और जिला पंचायत सदस्य के 868 उम्मीदवार मैदान में हैं। बता दें कि चुनावी मतों की गणना 2 मई को की जाएगी।

गौरतलब है की जहां एक ओर कोरोना संक्रमितों की संख्या बड़ी तेजी से बढ़ी हुई है तो वहीं मतदान के दौरान जमकर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां भी उड़ रही हैं प्रशासन के भी लोग मूकदर्शक बने हुए इसे देख रहे हैं। अब ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर कैसे कोरोना की बढ़ती हुई रफ्तार को नियंत्रित किया जा सकेगा।

कोरोना काल के बीच शुरू हुआ मतदान, जमकर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

                                   

कोरोना काल के बीच उत्तर प्रदेश त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का आगाज हो गया है। पहले चरण के लिए गुरुवार को गोरखपुर सहित प्रदेश के 18 जिलों में मतदान शुरू हो रहा है। सुबह सात बजे से शुरू हुआ मतदान शाम छह बजे तक जारी रहेगा। जिले में 9 बजे तक 9.80 फीसदी मतदान हुआ।

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जिले के 4657 बूथों पर 29 लाख 78 हजार 569 मतदाता प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी) और जिला पंचायत सदस्य पदों के प्रत्याशियों का भविष्य तय कर रहे हैं। जिले में प्रधान पद के 8822, सदस्य के 6893, बीडीसी के 8176 और जिला पंचायत सदस्य के 868 उम्मीदवार मैदान में हैं। बता दें कि चुनावी मतों की गणना 2 मई को की जाएगी।

गौरतलब है की जहां एक ओर कोरोना संक्रमितों की संख्या बड़ी तेजी से बढ़ी हुई है तो वहीं मतदान के दौरान जमकर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां भी उड़ रही हैं प्रशासन के भी लोग मूकदर्शक बने हुए इसे देख रहे हैं। अब ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर कैसे कोरोना की बढ़ती हुई रफ्तार को नियंत्रित किया जा सकेगा।

Comments are closed.

Share This On Social Media!