उत्तर प्रदेश (करतार न्यूज़ प्रतिनिधि):- भारत अभी दोहरी मार झेल रहा है । एक तरह कोरोना का कहर लगातार बढ़ते जा रहा है वहीं देश के कई कोने में मौसम विभाग के तरफ़ से चक्रवाती तूफान को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है।
वही इन आपदाओं के बीच नई बीमारी सबके बीच ब्लैक फंगस सामने आई है। जिसके उपचार के लिए यूपी सरकार के लिए कदम उठाया है। उपचार हेतु मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस बीमारी के ईलाज के लिए दिशा निर्देश जारी किया है, जिसमें डॉक्टरों को संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में प्रशिक्षण दिया जाएगा।
शनिवार को एक बैठक के दौरान योगी आदित्यनाथ ने 12 लोगों की टीम गठन किया है जिसमें कोरोना वायरस के बचाव के लिए प्रोटोकोल्स को फॉलो करते हुए इस नए बीमारी ब्लैक फंगस के सही ईलाज की व्यवस्था की जाए।
वहीं आपको बता दें कि ब्लैक फंगस की ईलाज को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ बैठक करके इस बीमारी के लिए दिशा निर्देश जारी किया है। चिकित्सकों के साथ बातचीत होने के बाद इसके ट्रीटमेंट से जुड़े परामर्श जारी कर दिया गया ।
मुख्यमंत्री द्वारा गठित टीम में डॉ आमिर केसरी नोडल अधिकारी और सदस्य प्रोफेसर आलोक नाथ, प्रोफेसर शांतनु पांडे, प्रो विकास कन्नौजिया, प्रोफेसर रूंगमी मारक, डॉ सुभाष यादव, डॉ अरुण श्रीवास्तव डॉ पवन कुमार वर्मा, डॉ सुजीत कुमार गौतम, डॉ चेतना शमशेरी, डॉ विनीता मणि और डॉ कुलदीप विश्वकर्मा मौजूद रहेंगे ।

Source:- Google

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा नई बीमारी ब्लैक फंगस को लेकर जारी किया गया दिशा निर्देश।

                                   

उत्तर प्रदेश (करतार न्यूज़ प्रतिनिधि):- भारत अभी दोहरी मार झेल रहा है । एक तरह कोरोना का कहर लगातार बढ़ते जा रहा है वहीं देश के कई कोने में मौसम विभाग के तरफ़ से चक्रवाती तूफान को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है।
वही इन आपदाओं के बीच नई बीमारी सबके बीच ब्लैक फंगस सामने आई है। जिसके उपचार के लिए यूपी सरकार के लिए कदम उठाया है। उपचार हेतु मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस बीमारी के ईलाज के लिए दिशा निर्देश जारी किया है, जिसमें डॉक्टरों को संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में प्रशिक्षण दिया जाएगा।
शनिवार को एक बैठक के दौरान योगी आदित्यनाथ ने 12 लोगों की टीम गठन किया है जिसमें कोरोना वायरस के बचाव के लिए प्रोटोकोल्स को फॉलो करते हुए इस नए बीमारी ब्लैक फंगस के सही ईलाज की व्यवस्था की जाए।
वहीं आपको बता दें कि ब्लैक फंगस की ईलाज को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ बैठक करके इस बीमारी के लिए दिशा निर्देश जारी किया है। चिकित्सकों के साथ बातचीत होने के बाद इसके ट्रीटमेंट से जुड़े परामर्श जारी कर दिया गया ।
मुख्यमंत्री द्वारा गठित टीम में डॉ आमिर केसरी नोडल अधिकारी और सदस्य प्रोफेसर आलोक नाथ, प्रोफेसर शांतनु पांडे, प्रो विकास कन्नौजिया, प्रोफेसर रूंगमी मारक, डॉ सुभाष यादव, डॉ अरुण श्रीवास्तव डॉ पवन कुमार वर्मा, डॉ सुजीत कुमार गौतम, डॉ चेतना शमशेरी, डॉ विनीता मणि और डॉ कुलदीप विश्वकर्मा मौजूद रहेंगे ।

Source:- Google

Comments are closed.

Share This On Social Media!