गोवा (करतार न्यूज़ प्रतिनिधि):- बॉम्बे हाइकोर्ट ने कहा कि गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की सुविधाएं बहुत ही अच्छी है। राज्य के महाधिवक्ता एजी ने कहा कि पूरे गोवा में इसी सुविधएं अच्छी है। सोमवार के एक बयान में एजी ने बताया कि मरीज मीडिया रिपोर्ट को लेकर अस्पताल में आने से झिझक रहे हैं वही अदालत का कहना है कि यह सब पिछले दिनों मव घटी घटनाओं को लेकर हो सकता है।

ए-जी ने कहा कि इसका “विपरीत प्रभाव” पड़ा है और गंभीर रोगी, जिन्हें सभी जीएमसीएच रेफर कर दिया गया है, देर से आ रहे हैं, जिससे इलाज मुश्किल हो रहा है। जिसके बाद यह तूफान का केंद्र बन गया लेकिन मरीजों के देरी के बाद एक कारण ऑक्सिजन की कमी भी था।

हाइकोर्ट ने कहा की सारी बातो से यह ओट चलता है कि मरीजों और उसके परिजनों का नुकसान हुआ है और कुछ जे ऑक्सीजन के कारण दम तोड़ दिया। सोमवार को, न्यायमूर्ति एम एस सोनक की अध्यक्षता वाली एक खंडपीठ ने ए-जी से कहा: “पिछले पांच-छह दिनों में जो कुछ हुआ है, उससे लोगों की हिचकिचाहट का कुछ लेना-देना हो सकता है। वीडियो (अस्पताल के वार्डों का) वायरल हो गया है। लोग स्वाभाविक रूप से ऐसा महसूस करेंगे।”

जीएमसीएच से झिझक रहे मरीज, क्या हो सकता है कारण, हाइकोर्ट ने बताया वजह।

                                   

गोवा (करतार न्यूज़ प्रतिनिधि):- बॉम्बे हाइकोर्ट ने कहा कि गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की सुविधाएं बहुत ही अच्छी है। राज्य के महाधिवक्ता एजी ने कहा कि पूरे गोवा में इसी सुविधएं अच्छी है। सोमवार के एक बयान में एजी ने बताया कि मरीज मीडिया रिपोर्ट को लेकर अस्पताल में आने से झिझक रहे हैं वही अदालत का कहना है कि यह सब पिछले दिनों मव घटी घटनाओं को लेकर हो सकता है।

ए-जी ने कहा कि इसका “विपरीत प्रभाव” पड़ा है और गंभीर रोगी, जिन्हें सभी जीएमसीएच रेफर कर दिया गया है, देर से आ रहे हैं, जिससे इलाज मुश्किल हो रहा है। जिसके बाद यह तूफान का केंद्र बन गया लेकिन मरीजों के देरी के बाद एक कारण ऑक्सिजन की कमी भी था।

हाइकोर्ट ने कहा की सारी बातो से यह ओट चलता है कि मरीजों और उसके परिजनों का नुकसान हुआ है और कुछ जे ऑक्सीजन के कारण दम तोड़ दिया। सोमवार को, न्यायमूर्ति एम एस सोनक की अध्यक्षता वाली एक खंडपीठ ने ए-जी से कहा: “पिछले पांच-छह दिनों में जो कुछ हुआ है, उससे लोगों की हिचकिचाहट का कुछ लेना-देना हो सकता है। वीडियो (अस्पताल के वार्डों का) वायरल हो गया है। लोग स्वाभाविक रूप से ऐसा महसूस करेंगे।”

Comments are closed.

Share This On Social Media!