Last updated on May 12th, 2021 at 09:53 am

इंस्टाग्राम अकाउंट के ज़रिए पश्चिम बंगाल में नफरत फैलाने व सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के आरोप में अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। टीएमसी प्रवक्ता रिजु दत्ता ने गुरुवार को इसको लेकर उल्टाडांगा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। दत्ता ने यह भी आरोप लगाया कि अभिनेत्री ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की छवि को खराब किया है।

उनकी नीतियों का उल्लंघन करने के आरोप में ट्विटर पर निलंबित किए जाने के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत के खिलाफ पश्चिम बंगाल में नफरत फैलाने और सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के आरोप में एक नई एफआईआर दर्ज की गई है।

यह शिकायत एक कार्यकर्ता और प्रवक्ता रिजू दत्ता ने भी दायर की है, जिन्होंने कंगना पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की छवि को बदनाम करने का आरोप लगाया है । पत्र में उन्होंने कंगना के खिलाफ जरूरी कार्रवाई करने का आग्रह किया है। शिकायत में कहा गया है, “सुश्री राणावत ने अपने सत्यापित आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल असर यूआरएल से कई पोस्ट किए हैं: http://instagram.com/kanganaranaut?igshid=2yruw6zd7j ‘ स्टोरी ‘ सेक्शन में । उन्होंने पश्चिम बंगाल की माननीय मुख्यमंत्री श्रीमती ममता बनर्जी की छवि को भी विकृत और बदनाम किया है । इसलिए उस पर पश्चिम बंगाल में हिंसा भड़काने के लिए घृणा फैलाने वाले दुष्प्रचार के खिलाफ आरोप लगाया जाना है ।

यह कार्रवाई बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा पर प्रतिक्रिया देने वाली कंगना ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सीधा तंज कसते हुए यह कार्रवाई की है।

उनके ट्वीट के बाद कंगना का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया और फिर उन्होंने इंस्टाग्राम पर पोस्ट करना शुरू कर दिया। ट्विटर के प्रवक्ता के मुताबिक, कंगना के अकाउंट से लगातार गुस्सा और हिंसा भड़क रही थी, जिससे प्लेटफॉर्म पर ग्लोबल पब्लिक बातचीत की वैल्यू कम हो रही थी।

इस बीच, काम के मोर्चे पर कंगना के बहुप्रतीक्षित प्रोजेक्ट ‘ थलैवी ‘ को 23 अप्रैल को नाट्य रिलीज होने की उम्मीद थी, इस साल भारत में COVID-19 मामलों की संख्या में वृद्धि के कारण स्थगित हो गया ।

नफरत फैलाने व सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के आरोप में कंगना के खिलाफ बंगाल में केस दर्ज

                                   

Last updated on May 12th, 2021 at 09:53 am

इंस्टाग्राम अकाउंट के ज़रिए पश्चिम बंगाल में नफरत फैलाने व सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के आरोप में अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। टीएमसी प्रवक्ता रिजु दत्ता ने गुरुवार को इसको लेकर उल्टाडांगा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। दत्ता ने यह भी आरोप लगाया कि अभिनेत्री ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की छवि को खराब किया है।

उनकी नीतियों का उल्लंघन करने के आरोप में ट्विटर पर निलंबित किए जाने के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत के खिलाफ पश्चिम बंगाल में नफरत फैलाने और सांप्रदायिक हिंसा भड़काने के आरोप में एक नई एफआईआर दर्ज की गई है।

यह शिकायत एक कार्यकर्ता और प्रवक्ता रिजू दत्ता ने भी दायर की है, जिन्होंने कंगना पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की छवि को बदनाम करने का आरोप लगाया है । पत्र में उन्होंने कंगना के खिलाफ जरूरी कार्रवाई करने का आग्रह किया है। शिकायत में कहा गया है, “सुश्री राणावत ने अपने सत्यापित आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल असर यूआरएल से कई पोस्ट किए हैं: http://instagram.com/kanganaranaut?igshid=2yruw6zd7j ‘ स्टोरी ‘ सेक्शन में । उन्होंने पश्चिम बंगाल की माननीय मुख्यमंत्री श्रीमती ममता बनर्जी की छवि को भी विकृत और बदनाम किया है । इसलिए उस पर पश्चिम बंगाल में हिंसा भड़काने के लिए घृणा फैलाने वाले दुष्प्रचार के खिलाफ आरोप लगाया जाना है ।

यह कार्रवाई बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा पर प्रतिक्रिया देने वाली कंगना ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सीधा तंज कसते हुए यह कार्रवाई की है।

उनके ट्वीट के बाद कंगना का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया और फिर उन्होंने इंस्टाग्राम पर पोस्ट करना शुरू कर दिया। ट्विटर के प्रवक्ता के मुताबिक, कंगना के अकाउंट से लगातार गुस्सा और हिंसा भड़क रही थी, जिससे प्लेटफॉर्म पर ग्लोबल पब्लिक बातचीत की वैल्यू कम हो रही थी।

इस बीच, काम के मोर्चे पर कंगना के बहुप्रतीक्षित प्रोजेक्ट ‘ थलैवी ‘ को 23 अप्रैल को नाट्य रिलीज होने की उम्मीद थी, इस साल भारत में COVID-19 मामलों की संख्या में वृद्धि के कारण स्थगित हो गया ।

Comments are closed.

Share This On Social Media!