कोविड का कहर पूरे देश पर है जिससे बचाव का बस एकमात्र विकल्प कोविड वेक्सीन है लेकिन वैक्सीन लेने के बाद लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। जिसको लेकर यह चिंतनीय विषय बन चुकी है। कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें कोविड वैक्सीनाशन के बाद भी लोग संक्रमित हो चुके हैं। भले ही अभी इस मामले की संख्या कम है लेकिन इसका उपाय और वजह जानना सबसे जरूरी बात है।
हेल्थ एक्सपर्ट डॉ राजा धार का कहना है कि वैक्सीन एक बूस्टर के तौर पर काम करती है लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नही कि वैक्सीन लेने के बाद हम पूर्णत सुरक्षित हों जाते हैं। वैक्सीन बस हमारी बुखार ओर कोरोना के लक्षणों से बचाव करता है
वहीं मेडिका सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल की डॉ अविरल रॉय का कहना है कि आपके शरीर मे कुछ हद तक वैक्सीन ताकत देती है लेकिन दुबारा संक्रमित होने के पीछे एक और वजह है। वायरस आपके नाक से होकर पूरे शरीर मे प्रवेश करती है वही अभी जो वैक्सीन लोगो को दी जा रही है वह मनुष्य के नाक में नही बल्कि खून में एंटीबाडी बना रही है। इसी कारण से दुबारा संक्रमण का खतरा रहता है

वैक्सीन लगने के बाद दुबारा संक्रमण का खतरा, क्या है वजह? जानिये एक्सपर्ट से।

                                   

कोविड का कहर पूरे देश पर है जिससे बचाव का बस एकमात्र विकल्प कोविड वेक्सीन है लेकिन वैक्सीन लेने के बाद लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। जिसको लेकर यह चिंतनीय विषय बन चुकी है। कई ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें कोविड वैक्सीनाशन के बाद भी लोग संक्रमित हो चुके हैं। भले ही अभी इस मामले की संख्या कम है लेकिन इसका उपाय और वजह जानना सबसे जरूरी बात है।
हेल्थ एक्सपर्ट डॉ राजा धार का कहना है कि वैक्सीन एक बूस्टर के तौर पर काम करती है लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नही कि वैक्सीन लेने के बाद हम पूर्णत सुरक्षित हों जाते हैं। वैक्सीन बस हमारी बुखार ओर कोरोना के लक्षणों से बचाव करता है
वहीं मेडिका सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल की डॉ अविरल रॉय का कहना है कि आपके शरीर मे कुछ हद तक वैक्सीन ताकत देती है लेकिन दुबारा संक्रमित होने के पीछे एक और वजह है। वायरस आपके नाक से होकर पूरे शरीर मे प्रवेश करती है वही अभी जो वैक्सीन लोगो को दी जा रही है वह मनुष्य के नाक में नही बल्कि खून में एंटीबाडी बना रही है। इसी कारण से दुबारा संक्रमण का खतरा रहता है

Comments are closed.

Share This On Social Media!