पुणे (करतार न्यूज़ प्रतिनिधि):– इस संकट के घड़ी में भी कालाबाजारी थमने का नाम नही ले रही । कही ऑक्सिजन की तो कही अस्पतालों में दवाई की तो रेमडेसीवीर की कालाबाजारी लगातार चरम सीमा पर अपना जगह बनाये हुए है।
रेमडेसीवीर की कालाबाजारी को लेकर हर तरफ बात फैली हुई है और बहुत लोग पकड़ा भी गए हैं तो कुछ के ठिकाने का भंडाफोड़ भी हुआ है इसी बीच एक बार फिर कालाबाजारी की खबर महाराष्ट्र के पुणे से आई है पुणे शहर की पुलिस ने एक फार्मासिस्ट को कथित तौर पर बिना बिल और डॉक्टर के पर्चे के ₹45,000 में अवैध रूप से रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी की पहचान लोहेगांव निवासी देवेंद्र कालूराम चौधरी के रूप में की है। खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) अधिकारी श्रुतिका जाधव ने इस मामले में विमंतल थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है.

रेमडेसिविर को अवैध रूप से ₹45,000 . में बेचने के आरोप में पुणे का फार्मासिस्ट गिरफ्तार

                                   

पुणे (करतार न्यूज़ प्रतिनिधि):– इस संकट के घड़ी में भी कालाबाजारी थमने का नाम नही ले रही । कही ऑक्सिजन की तो कही अस्पतालों में दवाई की तो रेमडेसीवीर की कालाबाजारी लगातार चरम सीमा पर अपना जगह बनाये हुए है।
रेमडेसीवीर की कालाबाजारी को लेकर हर तरफ बात फैली हुई है और बहुत लोग पकड़ा भी गए हैं तो कुछ के ठिकाने का भंडाफोड़ भी हुआ है इसी बीच एक बार फिर कालाबाजारी की खबर महाराष्ट्र के पुणे से आई है पुणे शहर की पुलिस ने एक फार्मासिस्ट को कथित तौर पर बिना बिल और डॉक्टर के पर्चे के ₹45,000 में अवैध रूप से रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी की पहचान लोहेगांव निवासी देवेंद्र कालूराम चौधरी के रूप में की है। खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) अधिकारी श्रुतिका जाधव ने इस मामले में विमंतल थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है.

Comments are closed.

Share This On Social Media!