कोरोना काल मे बहुत परिवार टूट रहे हैं जिसके कारण कही बच्चे अनाथ हो रहे हैं तो कहीं माँ बाप लाचार नजर आते हैं।
इस लाचारी अवस्था मे भी तस्करी के कालाबाजारी थमने का नाम नही ले रहा है। एक तरफ कही परिवार बिखर रहे हैं तो दूसरी ओर मासूम अनाथ बच्चों की तस्करी की जा रही है। जिसको लेकर महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के ओर से नोटिस दिया गया है कि सोशल मीडिया पर बच्चों के अडॉप्शन को लेकर बहुत से नोटिस आते हैं जिसमें अनाथ बच्चों को गोद लेने को कहा जाता है।
मंत्रालय ने इस तरीके के मैसज से बचने का आग्रह करते हुए कहा कि ऐसे में बच्चों की तस्करी हो सकती है। इसलिए अगर कोविड से किसी बच्चे के माता पिता की मौत हो जाती है या उसका देखभाल करने वाला कोई नही है तो ऐसी स्थिति में 24 घण्टे के भीतर जिला बाल कल्याण समिति में पहुचाया जाए और किसी जानकारी के लिए चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 पर कॉल करके जानकारी दे सकते हैं या प्राप्त कर सकते हैं।
मंत्रालय ने चिंता जताते हुए राज्यों में पत्र के माध्यम से इसकी निगरानी को लेकर सावधानी बरतने की बात कही गई है

सोशल मीडिया पर बच्चों को गोद लेने का आह्वान न करें:- महिला एवं बाल विकास मंत्रालय

                                   

कोरोना काल मे बहुत परिवार टूट रहे हैं जिसके कारण कही बच्चे अनाथ हो रहे हैं तो कहीं माँ बाप लाचार नजर आते हैं।
इस लाचारी अवस्था मे भी तस्करी के कालाबाजारी थमने का नाम नही ले रहा है। एक तरफ कही परिवार बिखर रहे हैं तो दूसरी ओर मासूम अनाथ बच्चों की तस्करी की जा रही है। जिसको लेकर महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के ओर से नोटिस दिया गया है कि सोशल मीडिया पर बच्चों के अडॉप्शन को लेकर बहुत से नोटिस आते हैं जिसमें अनाथ बच्चों को गोद लेने को कहा जाता है।
मंत्रालय ने इस तरीके के मैसज से बचने का आग्रह करते हुए कहा कि ऐसे में बच्चों की तस्करी हो सकती है। इसलिए अगर कोविड से किसी बच्चे के माता पिता की मौत हो जाती है या उसका देखभाल करने वाला कोई नही है तो ऐसी स्थिति में 24 घण्टे के भीतर जिला बाल कल्याण समिति में पहुचाया जाए और किसी जानकारी के लिए चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 पर कॉल करके जानकारी दे सकते हैं या प्राप्त कर सकते हैं।
मंत्रालय ने चिंता जताते हुए राज्यों में पत्र के माध्यम से इसकी निगरानी को लेकर सावधानी बरतने की बात कही गई है

Comments are closed.

Share This On Social Media!